भारत में बेरोजगारी

बेरोजगारी से तात्पर्य जब कोई व्यक्ति प्रचलित मजदूरी की दर पर कारना तो चाहता है, पर उसे कार्य न मिल पाता हों। इसमें 15 एवं 65 वर्ष के व्यक्तियों को शामिल किया जाता है सम्पूर्ण विष्व में बेरोजगारी की प्रकृति भिन्न-भिन्न है।
विकसित देषों में तथा विकासषील देषों में बेरोजगारी दो प्रकार की पायी जाती है।
1. ऐच्छिक बेरोजगारी: ऐसे लोग जो अपने मन मुताबिक कार्य के अभाव में किसी अन्य कार्य को नही करना चाहते उन्हे एच्छिक बेरोजगार कहा जाता है।
2. अनैच्छिक बेरोजगारी: ऐसे लोग जो कार्य करना तो चाहते है पर उन्हें कार्य न मिल पाता हो ऐसे लोग ही वास्तविक रूप से बेरोजगार माने जाते है।
विकसित देषों में बेरोजगारी का प्रमुख कारण जहाॅ माॅग की कमी है वहीं अल्पविकसित देषों में बेरोजगारी का प्रमुख कारण संरचनात्मक (रेल,रोड, षिक्षा, सस्थागत चिकितसा, शुद्ध पेयजल) विकास की कमी है।
विकसित देष: इसमें दो प्रकार की बेरोजगारी पाई जाती है। विकसित देषोंमें तकनीकी तथा घर्षणात्मक बेरोजगारी पाई जाती है।
1. तकनीकी बेरोजगारी: एक तकनीक के स्थान पर जब दूसरी तकनीक आ जाती है तब पुरानी तकनीकी पर काम करने वाला व्यक्ति जब तक प्रषिक्षण प्राप्त नही कर लेता तब तक वह बेरोजगार होगा।
2. घर्षणात्मक बेरोजगारी: जब व्यापाार जगतमें उतार चढाव के कारण मांग कम जो जाती है तो यह अपना प्रभाव सीधे रूप से उत्पादन एवं रोजगार पर डालती है। जैसे – मंदी के दिनों में मांग की कमी के कारण रोजगार में कमी उत्पनन हो जाती है। इस प्रकार की बेरोजगारी भी मांग के साथ समाप्त हो जाती है।
अल्प विकसित देषों में प्रमुख बेरोजगारी छिपी हुई या प्रछन्न प्रकार की है। यह भारत की प्रमुख बेरोजगारी है। प्रच्छनन बेरोजगारी की सीमांत

उतपादकता शून्य होती है।

 

                                                             विकास कार्यकम

       कार्यक्रम                                                    वर्ष                                             उदद्षेय

 1) प्रथम योजना                                                                 1952                                         देश/राष्ट्र का समग्र विकास

2)लघु उद्योग विकास संगठन(SIDO)                             1954                                        नये उद्योगों के विकास हेतु

3)सधन कृषि जिला कार्यक्रम(IADP)                            1960-61                                    कृषकों के बीच, उर्वरक, औजार और ऋण                                                                                                                                                 उपलब्ध  कराना।                                                                                                                              

4)सधन कृषि क्षेत्रीय कार्यक्रम (IAAP)                           1964-65                                   विशिष्ट फसलों का विकास

5)साख अधिकरण योजना ;(CAS)                                1965                                        RBI  की चयनात्मक साख नीति की एक योजना                                                                                                                                    

 6)अधिक उपज देने वाली किस्मों का कार्यक्रम                      1966-67                                    कृषि उत्पादकता बढाने हेतु नये किस्म के बीजों       High, Yielding Variety Programme)                                                             का प्रयोग                                                                     

7)भारत पर्यटन विकास निगम                                              1966                                         होटलों एवं आराम गृहों का निर्माण

8)हरित क्रांति                                                                1966-67                                        कृषि उत्पादन में वृद्धि करना।

9)बहु फसली कार्यक्रम (MCP)                                 1966-67                                      कृषि उत्पादन में वृद्धि करना।

10)ग्रामीण विद्युतीकरण निगम                                            1969                                           कृषि एवं उद्योगों हेतु ग्रामीण क्षेत्रों में विद्युत व्यवस्था

11)विभेदीकरण ब्याजदर योजना                                           1972                                          स्माज के कमजोर वर्गो को रियायती दर 4 प्रतिषत                                                                                                                                          पर   ऋण उपलब्ध कराना

12)त्वरित ग्रामीण जल आपूर्ति कार्यक्रम                                 1972-73                                       ग्रामीण क्षेत्रों में पर्यावरण सन्तुलन और प्राकृतिक                                                                                                                                          संसाधनों का संरक्षण

13)ग्रामीण रोजगार के लिए नकद योजना                                1972-74                                     ग्रामीण विकास हेतु

14)सीमान्त कृषक एवं कृषक श्रमिक ऐजेन्सी                            1973-74                                     तकनीकी एवं आर्थिक सहायता

15)लघु कृषिक विकास ऐजेन्सी                                               1974-75                                     तकनीकी एवं आर्थिक सहायता

16)कमान क्षेत्र विकास कार्यक्रम                                              1974-75                                     बडी एवं छोटी योजनाओं हेतु सिचाई की व्यवस्था

17)बीस सूत्रीय कार्यक्रम                                                          1975                                        गरीबी उन्मूलन एवं रहन सहन उच्चीकरण

18)राष्ट्रीय ग्रामीण विकास संस्थान                                               1977                                      ग्रामीण विकास हेतु प्रषिक्षण, शोध तथा सलाहकारी                                                                                                                                       संस्था
19)गरूभूमि विकास कार्यक्रम                                                  1977-78                                  गरूभूमि विस्तार प्रक्रिया नियंत्रण एवं पर्यावरण                                                                                                                                             संतुलन
20)काम के बदले अजान कार्यक्रम                                            1977-78                                   विकास प्रकियाओं के काम हेतु खाद्यान्न देना

a)अन्तेदय कार्यक्रम                                                           1977-78                                  राजस्थान में गाव के सबसे गरीब परिवारों को                                                                                                                                                स्वालम्बी बनाना

b)ग्रामीण युवाओं का स्वरोजगार हेतु                                    15 Aug  1979                     ग्रामीण युवा वर्ग के बेरोजगारी के दूर करने हेतु                                                                                                                                            प्रषिक्षण कार्यक्रम

21)प्रषिक्षण कार्यक्रम (TRYSEM)

a)समन्वित ग्रामीण विकास कार्यक्रम (IRDP)                  Oct. 1980                       ग्रामीण निर्धन परिवारों को स्वरोजगार हेतु ऋण                                                                                                                                            उपलबध कराना

b) राष्ट्रीय ग्राम्य रोजगार कार्यक्रम (NREP)                        1980                                  ग्रामीण निर्धनों को लाभप्रद रोजगार उपलबध कराना

c)ग्रामीण क्षेत्रों में महिला एवं बाल विकास कार्यक्रम (DWCRA) 1982                               BPL ग्रामीण परिवारों की महिलाओ को स्वरोजगार                                                                                                                                   के अक्सर उपलब्ध कराना।

d) ग्रामीण भूमिहीन रोजगार गारण्टी कार्यक्रम (RLEGP)    15 ।Aug 1983                         भूमिहीन कृषकों व श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध                                                                                                                                           करानें  हेतु

22)षिक्षित बेरोजगार युवकों को स्वरोजगार                                  1983-84                             स्वरोजगार हेतु वित्तीय सहायता एवं तकनीकी सहयोग      प्रदान करने की योजना

23)राष्ट्रीय ग्रामीण विकास कोष                                                  1984                                    दानकर्ता के कर में 100 प्रतिषत की छूट तथा ग्रामीण                                                                                                                                     विकास की परियोजना हेतु दान प्राप्त करना

23)व्यापक फसल बीमा योजना                                             1 April1985                         विभिन्न कृषि फसलों की बीमा हेतु

24)इंदिरा आवास योजना                                                        1985-86                               ग्रामीण क्षेत्रों में गृह ऋण 5 लाख रूपये

25)लोक कार्यक्रम एवं ग्रामीण प्रौद्योगिकी विकास परिषद                1986                                  ग्रामीण समृद्धि हेतु सहायता 28 दिसम्बर, 2004 सें                                                                                                                                       इसका नाम बदलकर गंगोत्री कर दिया गया है-

26)ग्रामीण जलापूर्ति कार्यक्रम                                                    1986                                  ग्रामीण क्षेत्रों में पेयजल व्यवस्था

27)शहरी निर्धनों हेतु स्वरोजगार कार्यक्रम(SEPUP)                1986                                  स्वरोजगार हेतु वित्तीय एवं तकनीकी मदद

28)सेवा क्षेत्र दृष्टिकोण                                                              1988                                  ग्रामीण क्षेत्रों के लिए नई साख नीति

29)प्रौढ़ षिक्षा कार्यक्रम                                                             1988                                   ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्र मंे षिखा विस्तार

30)भारतीय पर्यटन वित्त निगम                                                  1989                                    पर्यटन से संबंद्ध योजनाओं हेतु वित्त व्यवस्था

31)गृह ऋणखाता योजना                                                          1989                                    गृह सुविधा उपलब्ध कराने हेतु सहायता

a) नेहरू रोजगार योजना ;(NRY)                                    1989                                     नगरीय बेरोजगार को रोजगार देने हेतु

b)जवाहर रोजगार योजना (JRY)                                April.1989                              ग्रामीण क्षेत्रों के बेरोजगारों को रोजगार देने हेतु

c)कुटीर जयोति योजना                                                        1988-99                                   ग्रामीण क्षेत्रों में ठच्स् परिवारों को विद्युत कनेक्षन

32)कृषि एवं ग्रामीण ऋण राहत योजना (ARDRS)                1990                                      ग्रामीण कुषल श्रमिकों, कारीगरों, बुनकरों को 10000                                                                                                                                   रूपये तक ब्याज मुक्त ऋण देना

33)शहरी सूक्ष्म उद्यम योजना                                                    1990                                     शहरी लघु उद्यनियों को वित्तीय सहायता

34)शहरी सवेतन रोजगार योजना                                               1990                                     एक लाख से कम जनसंख्या वाली शहरी बस्तियों                                                                                                                                      गरीबी के लिए मूल सुविधा की व्यवस्था करके                                                                                                                                                                          रोजगार प्रदान करना

शहरी आवास एवं आश्रय सुधार योजना                                        1990                                     1 लाख से 20 लाख की जनसंख्या वाली शहरी                                                                                                                              बस्तियों में  आश्रय उन्नयन के माध्यम से रोजगार प्रदान करना

रोजगार आष्वासन योजना                                              2 Oct.1993                             रोजगार उपलब्ध कराने हेतु

प्राइम मिनिस्टर रोजगार योजना ;(PMRY)              2 Oct1993                              षिक्षित युवकों को रोजगार प्रदान करना

राष्ट्रीय मातृत्व लाभ योजना                                            1995                                       19 वर्ष से अधिक को ठच्स् गर्भवती महिलाओं को 300                                                                                                                                  रू. की वित्तीय सहायता

प्रधानमंत्री की षिक्षित बेरोजगार                                18 Nov.1995                             5000 से 1 लाख जनसंख्या वाले क्षेत्रों में षिक्षित युवकों     युवकों हेतु रोजगार योजना                                                                                          को वित्तीय सहायता

राष्ट्रीय सामाजिक सहायता कार्यक्रम                                        1995                                         विभिन्न योजनाओं द्वारा ठच्स् लोगो को सहायता

ग्रामीण क्षेत्रों में सामूहिक जीवन बीमा                                 1995-96                                  ग्रामीण क्षेत्रों में व्यक्तियों को कम लागत पर जीवन                                                                                                                                                                      बीमा  सुविधा

वृद्धावस्था पेंषन योजना                                                       1995                                         65 वर्ष या अधिक आयु के असहाय वृद्धिों को 200                                                                                                                                      रूपया मासिक पेंषन                                                                                                                     

उत्तर-पूर्व विकास बैंक                                                        1995                                            उत्तर-पूर्वी क्षेत्रों में उद्योंगो को सहायता

संगम योजना                                                             1996                                          विकलागों के कल्याण हेतु

ऽ स्वावलम्बन                                                      27Sep.2010                                 असंगठित क्षेत्र के लिए नयी पेंषन योजना

ऽ राजीव गाॅधी स्कीम फार ऐडोलेसेंन्ट गल्र्स            1 April2010 से लागू                          ICDS द्वारा क्रियान्वित

ऽ महिला कृषि सषक्तीकरण योजना                       1 April 2010 से लागू                     नेषनल लिवलीहुड मिषन का एक उपभाग

ऽ नेषनल रूरल लिवलीहुड मिषन                                 2009-10                                      SGSY का नया नाम

ऽ राजीव आवास योजना (RAY)                                2009-10                                     स्लममुक्ति से संबंधित

ऽ प्रधानमंत्री आदर्ष ग्राम योजना                                    2009-10                                    अनुसूचित जाति बहुत ग्राम विकास योजना


ऽ महिला किसान सषक्तीकरण योजना                          2010-11                                      ग्रामीण विकास महिलाओं की विषिष्ट आवष्यकताओं                                                                                                                                      की  पूर्ति हेतु          

BPSC PRELIMS + MAINS 2019

  • 150+ Hours VIDEO
  • 24*7 Doubt Clearance
  • 24 Months Validity
  • 64 GB PENDRIVE

RS.4000

CGPSC PRELIMS + MAINS 2019

  • 250+ Hours VIDEO
  • 24*7 Doubt Clearance
  • 24 Months Validity
  • 64 GB PENDRIVE

RS.4000

MPPSC PRELIMS + MAINS 2019

  • 250+ Hours VIDEO
  • 24*7 Doubt Clearance
  • 24 Months Validity
  • 64 GB PENDRIVE

RS.4000

Banking Sector (INDIAN ECONOMY) Cgpsc/Bpsc/Mppsc- 2019

Table of Contents BANKING SECTOR IN INDIAभारतीय रिजर्व बैंक रिजर्व बैंक का प्रबंधनभारतीय वाणिज्यिक बैंक (Indian Commercial Bank)वाणिज्यिक बैंकों का राष्ट्रीयकरणनिजी बैंको का सार्वजनिक क्षेत्रों

Read More »

Important Fact Of Indian Economy-Cgpsc/Bpsc/Mppsc- 2019

Table of Contents ECONOMIC ARTH VYAVASTHAभारतीय अर्थव्यवस्थाः महत्तवपूर्ण तथ्य :-CGPSC PRELIMS EXAM 2019 ECONOMIC ARTH VYAVASTHA भारतीय अर्थव्यवस्थाः महत्तवपूर्ण तथ्य :-  वर्ष 2011-12 के

Read More »
Close Menu
Send message via your Messenger App